Home UTTAR PRADESH CAA और NRC के विरुद्ध प्रदर्शन करने वालों पर दर्ज मुकदमों को...

CAA और NRC के विरुद्ध प्रदर्शन करने वालों पर दर्ज मुकदमों को रद्द करने की याचिका पर हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब माँगा

लखनऊ, संवाददाता। नागरिकता संशोधन कानून और नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस को लेकर पिछले साल हुए विरोध में धरना प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ दायर मुकदमों को रद्द करने की मांग की गई है। इलाहाबाद हाईकोर्ट में इसे लेकर याचिका दायर की गई है । यह याचिका एजाज अहमद और अन्य की ओर से दाखिल की गई है। इस मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब भी तलब किया है । जबकि मामले की अगली सुनवाई तक याचियो के उत्पीड़न पर रोक लगा दी गई है ।
बताते चलें कि सीएए -एनआरसी के विरोध में प्रदर्शन करने वालों में याचिकाकर्ता सहित 26 नामजद और 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया था। सीएए- एनआरसी का विरोध प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ हत्या का प्रयास, मारपीट, विधि विरुद्ध जमाव और 7 क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया था। याचिकाकर्ता का कहना है कि वह मौके पर नहीं थे । याची व अन्य प्रदर्शनकारियों के पास से कोई आपत्तिजनक चीज भी बरामद नहीं हुई ।
यह सुनवाई जस्टिस पंकज नक़वी और जस्टिस विवेक अग्रवाल की डिवीजन बेंच में हुई ।
नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन को लगभग 1 वर्ष हो चुका हैं ।केंद्र सरकार ने 11 दिसंबर 2019 को सीएए पास किया था। हालांकि इसके बाद पूरे देश में धरने- प्रदर्शन शुरू हो गए थे ।दिल्ली के शाहीन बाग और देश के कई अन्य हिस्सों में भी धरने प्रदर्शन किए जा रहे थे। राजधानी लखनऊ के घंटाघर और प्रयागराज पार्क का आंदोलन तो करोना काल से पहले शुरू होने के बाद कोरोना के प्रोकोप में खत्म हो सका। सीएए और एनआरसी के खिलाफ एक बड़ी हिंसा भी देखी गई। काफी जगह तोड़फोड़ आगजनी हुई इस दौरान मीडिया की ओबी वैन भी जलाई गईं और मीडिया कर्मी भी ज़ख्मी हुए। यही नहीं पुलिस पर हमले हुएऔर जमकर पथराव भी किया गया। यह हिंसा लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में फैली हालांकि इस हिंसा के पीछे यदि प्रदर्शनकारियों को दोष दिया जाएगा तो वहीं कुछ ऐसे लोगों पर भी शक की सुई जाएगी जो प्रदर्शनकारियों में शामिल होकर हिंसा भड़का रहे थे। 19 दिसंबर से 10 जनवरी तक चले हिंसा के इस दौर में 23 लोगों की जानें भी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

तुराज ज़ैदी का हुआ जरवल में भव्य स्वागत

लखनऊ, संवाददाता।भारतीय जनता पार्टी के प्रचार प्रसार के लिए निरन्तर मुसलमानों से निकटता बनाए रखने के लिए प्रयासरत फखरुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी उत्तर...

एन एस लाइव न्यूज़ ने किया भंडारे का आयोजन,ग़ैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के हितों पर 26 जून को होगी बैठक

लखनऊ, संवाददाता ।एन एस लाइव न्यूज़ चैनल द्वारा आज बालागंज में स्थित परफेक्ट टावर के बाहर आखिरी बड़े मंगल के अवसर पर विशाल भंडारे...

भारत निर्वाचन आयोग ने निर्धारित की राष्ट्रपति चुनाव की तिथ

भारत के 15वें राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को लखनऊ, संवाददाता। देश के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई, 2022 को समाप्त हो...

ये ड्राई फ्रूट्स दिलवाते हैं बैड कोलोस्ट्राल से नजात

ज़की भारतिया सिर्फ इन्सान के बदलते हुए रहन सहन और गलत खानपान के कारण ही नहीं बल्कि बाज़ार में आ रही खाने पीने की मिलावटी...

पूर्व सीएजी विनोद राय की माफी से साफ हो गया कि उन्होंने अपनी 2 जी स्पेक्ट्रम व कोल रिपोर्ट में झूठ बोलकर मनमोहन सरकार...

  लखनऊ ,संवाददाता। पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में पूर्व सीएजी...