Home UTTAR PRADESH देवरिया जिले के नारी संरक्षण गृह में महिलाओं से देह व्यापार पर...

देवरिया जिले के नारी संरक्षण गृह में महिलाओं से देह व्यापार पर मायावती की भाजपा पर सख्त प्रतिक्रिया

लखनऊ (सवांददाता) अभी बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में हुए महिलाओं के साथ रेप काण्ड का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के नारी संरक्षण गृह में महिलाओं के साथ जबर्दस्ती देह व्यापार करने का मामला प्रकाश में आ गया| इस मामले पर बीएसपी द्वारा जारी सूचना के अनुसार प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमों मायावती ने तल्ख़ टिप्पणी करते हुए जारी अपने बयान में कहा कि इस घिनौने काण्ड से यह साबित हो गया कि बीजेपी की सरकारो में कितनी ज़्यादा अराजकता है व महिलाये कितनी ज़्यादा असुरक्षित हैं और उनकी बुरी दुर्दशा है| जो पूरे देश के लिये ही शर्म व अति-चिन्ता की बात है। सरकारी उदासीनता के कारण बिहार व देवरिया नारी संरक्षण गृह में भी जबर्दस्ती देह व्यापार कराने की लम्बे समय से चली आ रही घिनौनी घटना की तीव्र निन्दा करते हुए मायावती ने कहा कि इस प्रकार की जघन्य घटनाओं से यह साबित होता है कि बीजेपी शासित राज्यों में थोड़ा नहीं बल्कि पूरा जंगलराज है तथा कानून-व्यवस्था की तरह ही महिला सुरक्षा व सम्मान भी बीजेपी के लिए प्राथमिकता नहीं हैं| मुजफ्फरपुर शेल्टर होम व देवरिया नारी संरक्षण गृह में दुष्कर्म का धन्धा चलाने  वालों के खिलाफ सख्त-से-सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग करते हुए मायावती ने कहा कि सरकारी संरक्षण के बिना यह सब अन्याय-अत्याचार व घोर पाप संम्भव ही नहीं है। इसलिए सरकारी अधिकारियों आदि पर भी कार्रवाई काफी सख्त होनी चाहिए, ना कि लीपापोती जैसी कोई बात| उन्होंने कहा कि लीपापोती तो बीजेपी सरकार कि आदत बन गई हैं,गम्भीर से गम्भीर घटनाओ में बीजेपी सिवाए लीपापोती और कुछ नहीं करती हैं|  बीजेपी की सरकार में ज्यादातर लोग अपने आपको कानून से ऊपर मानने लगे हैं, जिस कारण आमजनता चैन से नहीं जी पा रही है। समाज का हर तबका दुःखी व पीड़ित है। दलितों, पिछड़ों, ईसाई, मुस्लिम व अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों तथा अपरकास्ट समाज के गरीबों के बाद अब महिलायें भी शोषण व आतकं का शिकार हो रही हैं जबकि बीजेपी का शीर्ष नेतृत्व अन्य गम्भीर समस्याओं के साथ-साथ महिला सुरक्षा के मामले में भी काफी उदासीन नजर आ रहा है, जो देश के लिये बड़ी चिन्ता की बात है और जिसके सही उपायों के लिये देश की आमजनता को कमर कसना जरुरी है। पहले बिहार व अब उत्तर प्रदेश में भी इस प्रकार के जघन्य महिला अपराधो के मामलों मे भी साफ व सही नीयत तथा दृढ़ इच्छाशक्ति से काम नहीे करने एवं केवल सरकारी लीपापोती की प्रथा अपनाने की तीव्र भत्र्सना करते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार को बी.एस.पी. शासन का वह ज़माना भी ज़रूर याद कर लेना चाहिये कि जब इलाहाबाद के सुदूर गाँव में एक महिला को नंगा घुमाने पर सीधे जिले के सबसे बड़े अधिकारी एस.एस.पी. को ही निलम्बित कर दिया गया था। कानून-व्यव्स्था के साथ-साथ ख़ासकर महिलाओं की सुरक्षा के मामले में जब तक सख़्त कानूनी कार्रवाई नहीं की जायेगी ऐसी घटनाये रूकने वाली नहीं है। वैसे तो उत्तर प्रदेश सरकार को बिहार की दुःखद घटना से सबक सीख कर फौरन ही एलर्ट हो जाना चाहिए था, लेकिन सरकार सोती रही और महिलाओं का बड़ा समूह सरकारी व्यवस्थाओं का शिकार बनता रहा। यह सब अत्यन्त ही दुःखद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

तुराज ज़ैदी का हुआ जरवल में भव्य स्वागत

लखनऊ, संवाददाता।भारतीय जनता पार्टी के प्रचार प्रसार के लिए निरन्तर मुसलमानों से निकटता बनाए रखने के लिए प्रयासरत फखरुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी उत्तर...

एन एस लाइव न्यूज़ ने किया भंडारे का आयोजन,ग़ैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के हितों पर 26 जून को होगी बैठक

लखनऊ, संवाददाता ।एन एस लाइव न्यूज़ चैनल द्वारा आज बालागंज में स्थित परफेक्ट टावर के बाहर आखिरी बड़े मंगल के अवसर पर विशाल भंडारे...

भारत निर्वाचन आयोग ने निर्धारित की राष्ट्रपति चुनाव की तिथ

भारत के 15वें राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को लखनऊ, संवाददाता। देश के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई, 2022 को समाप्त हो...

ये ड्राई फ्रूट्स दिलवाते हैं बैड कोलोस्ट्राल से नजात

ज़की भारतिया सिर्फ इन्सान के बदलते हुए रहन सहन और गलत खानपान के कारण ही नहीं बल्कि बाज़ार में आ रही खाने पीने की मिलावटी...

पूर्व सीएजी विनोद राय की माफी से साफ हो गया कि उन्होंने अपनी 2 जी स्पेक्ट्रम व कोल रिपोर्ट में झूठ बोलकर मनमोहन सरकार...

  लखनऊ ,संवाददाता। पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में पूर्व सीएजी...