Home POLITICS एकमत होकर मुसलमानों ने किया सपा को वोट

एकमत होकर मुसलमानों ने किया सपा को वोट

लखनऊ,संवाददाता । उत्तर प्रदेश में आज चौथे चरण के लिए 59 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ । जिस तरह से मतदाताओं नें अपने मत का प्रयोग करते हुए जोश दिखाया है ,उससे प्रतीत होता है कि उत्तर प्रदेश में एक बड़ा परिवर्तन होने वाला है। 2017 के हुए चुनाव में मतदाताओं में वह रुचि नहीं थी जो इस बार देखने को मिल रही है । इस बार अधिकतर शहरों में मतदाताओं ने लगभग 55 प्रतिशत से ऊपर मतदान किया है। यह बढ़ा हुआ प्रतिशत बता रहा है,उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने के चाँद पर ग्रहण लग सकता है। ज़ाहिर है इस बार हिन्दू मतदाताओं ने मतदान करने में बहुत रुचि नहीं दिखाई है। खबर लिखे जाने तक मिली सूचना के अनुसार सीतापुर में 5 बजे तक 58.30 प्रतिशत ,लखनऊ में शाम 5 बजे तक 54.98 प्रतिशत, पीलीभीत में शाम 5 बजे तक 61.42 प्रतिशत रायबरेली में शाम 5 बजे तक 58 .32 प्रतिशत मतदान हो चुका था।

देखने को मिला कि इस बार मुसलमानों ने सुबह से ही निकलकर अपने मतदान स्थलों पर पहुचकर लंबी कतारें लगीं और समाजवादी पार्टी को वोट किया । भारतीय जनता पार्टी के लिए प्रचार कर रहे हैं मुस्लिम नेताओं ने बहुत प्रयास के बाद भी मुसलमानों से भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में उतना वोट नहीं डलवा सके जितने कि उन्होंने कल्पना की थी । पूर्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मुसलमानों के विरुद्ध कुछ ऐसे शब्दों का प्रयोग किया गया था जिन्हें मुसलमानों ने सोशल मीडिया पर जमकर वायरल करना शुरू कर दिया था। इस चुनाव में भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए उन बयानों को सोशल मीडिया पर कई दिनों से वायरल किया जा रहा था ,जिसमें बजरंगबली और अली, जिसमें 80 प्रतिशत और 20 प्रतिशत सहित कई मुस्लिम विरोधी बातें शामिल थी । यही नहीं एनआरसी और सीएए प्रकरण नें भी अधिकतर मुसलमानों को भारतीय जनता पार्टी से दूर कर दिया । हालाकी भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेताओं ने वैसे बयान नहीं दिए जैसे बयान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देते आ रहे थे ।

यही नहीं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा भी मुसलमानों के खिलाफ कोई ऐसी बात नहीं की गई जिससे मुसलमान नाराज होता । लेकिन मतदाताओं में पहुंच कर जब भारतीय जनता पार्टी को वोट ना किए जाने का कारण पूछा गया तो उन लोगों ने उन्हीं बातों का उल्लेख किया जो योगी जी द्वारा कही गईं थीं । जिसके परिणाम स्वरूप समाजवादी पार्टी को बड़ा लाभ मिला । समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से लोग काफी प्रभावित हैं ।अखिलेश यादव ने वैसे तो पूरे चुनाव में मुसलमानों से वोट मांगे जाने की कोई भी अपील नहीं की लेकिन उनके पिता द्वारा पूर्व में बाबरी मस्जिद प्रकरण पर मुसलमानों की हिमायत में दिए गए बयान के कारण आज भी मुसलमान उनको नहीं भूल पाया है । इसी कारणवंश मुसलमानों का वोट अखिलेश यादव की पार्टी के तरफ डाइवर्ट हो गया। समाजवादी पार्टी की ऐसी लहर चल रही है कि जिसके आगे कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी सहित अन्य कई राजनीतिक दल उस लहर में कहीं ठहरते नज़र नहीं आ रहे हैं। हालांकि अमित शाह द्वारा इस बार भी उत्तर प्रदेश में 300 से अधिक सीटें लाने का दावा किया गया है ।

एग्जिट पोल के आंकड़ों को देखा जाए तो भारतीय जनता पार्टी सरकार बना रही है। लेकिन परिणाम आने के बाद ही इसका फैसला किया जा सकेगा कि उत्तर प्रदेश में किसकी सरकार बन रही है,और कौन मुख्यमंत्री होगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

तुराज ज़ैदी का हुआ जरवल में भव्य स्वागत

लखनऊ, संवाददाता।भारतीय जनता पार्टी के प्रचार प्रसार के लिए निरन्तर मुसलमानों से निकटता बनाए रखने के लिए प्रयासरत फखरुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी उत्तर...

एन एस लाइव न्यूज़ ने किया भंडारे का आयोजन,ग़ैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के हितों पर 26 जून को होगी बैठक

लखनऊ, संवाददाता ।एन एस लाइव न्यूज़ चैनल द्वारा आज बालागंज में स्थित परफेक्ट टावर के बाहर आखिरी बड़े मंगल के अवसर पर विशाल भंडारे...

भारत निर्वाचन आयोग ने निर्धारित की राष्ट्रपति चुनाव की तिथ

भारत के 15वें राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को लखनऊ, संवाददाता। देश के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई, 2022 को समाप्त हो...

ये ड्राई फ्रूट्स दिलवाते हैं बैड कोलोस्ट्राल से नजात

ज़की भारतिया सिर्फ इन्सान के बदलते हुए रहन सहन और गलत खानपान के कारण ही नहीं बल्कि बाज़ार में आ रही खाने पीने की मिलावटी...

पूर्व सीएजी विनोद राय की माफी से साफ हो गया कि उन्होंने अपनी 2 जी स्पेक्ट्रम व कोल रिपोर्ट में झूठ बोलकर मनमोहन सरकार...

  लखनऊ ,संवाददाता। पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में पूर्व सीएजी...