HomeCITYअमृत महोत्सव के नाम पर भाजपाई रंग देने का प्रयास -अखिलेश

अमृत महोत्सव के नाम पर भाजपाई रंग देने का प्रयास -अखिलेश

अमृत महोत्सव के नाम पर भाजपाई रंग देने का प्रयास -अखिलेश

लखनऊ,संवाददाता। अमृत महोत्सव को जनजीवन के उत्साह से जोड़ने की जगह भाजपाई रंग देने का प्रयास देश के लिए मर मिटने वाले शहीदों का अपमान है। ये बात आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कही है। उन्होंने कहा कि अमृत महोत्सव राष्ट्रध्वज के अपमान का प्रयास है। उन्होंने इस मामले पर आरएसएस पर ज़बानी हमला बोलते हुए कहा, आरएसएस-भाजपा नेताओं ने चूंकि कभी राष्ट्रध्वज का सम्मान नहीं किया इसलिए आज भी वे उसका अपमान करने से नहीं चूक रहे हैं। कहीं तिरंगा यात्रा को भाजपाइयों ने दंगा यात्रा बना दिया है तो इटावा में भाजपा नेताओं ने दिखा दिया कि उन्हें सीधा तिरंगा पकड़ना भी नहीं आता है।
स्कूलों में बच्चों से, दफ्तर के कर्मचारियों से झण्डा खरीद के लिए वसूली की जा रही है।
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा तिरंगा यात्रा और अमृत महोत्सव के नाम पर बड़ा खेल कर रही है। उन्होंने कहा है कि भाजपाई राष्ट्रवाद के नाम पर केवल अपना मतलब ही पूरा करना जानते हैं। उनके लिए लोकतंत्र केवल कहने-सुनने को है।
अखिलेश यादव ने आज जारी बयान में कहा कि अमृत महोत्सव के नाम पर राष्ट्र भक्ति का उपदेश देने वाले उत्तर प्रदेश के हर विभाग में भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं और पुलिस उत्पीड़न करने में लगी है। आजादी के 75 वर्ष पर आयोजित अमृत महोत्सव भाजपा का दिखावा मात्र है। उन्होंने कहा कि भाजपा की दाग़दार सरकार में धांधली का साम्राज्य है। प्रदेश में पीडब्ल्यूडी, स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के तबादलों में पूरी धन्धेबाजी नजर आई। जांच के नाम पर कुछ ठोस परिणाम नहीं आये। घपला, घोटाला करने वाले अपनी अपनी कुर्सियों पर जमे हैं। मुख्यमंत्री रिपोर्ट मांग लेते हैं, अफसर उस पर कुण्डली मार कर बैठ जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read